जयपुर. देस में पधारने पर नाचने-गाने वाले राजस्थान के मकर संक्रांति एपिसोड ने ऐसी धूम मचा दी है कि गायक अनूप जलोटा भी उसकी वाह-वाह करने पर बाध्य हो गए। इस एपिसोड का मंचन भी किया गया। जिसमें लोक कलाकारों ने अपना कलाम पेश किया। मंचन में दो कठपुतली पात्र, एक टूर आपरेटर एवं एक पर्यटक के बीच संवाद को सुर दिए गए हैं।

ये पहल राजस्थानी गायिका मनीषा अग्रवाल के अर्पण फाउंडेशन ने की है। मकर संक्रांति मेला फंड रेजिंग के लिए लाया गया है। इसमें अब तक राजस्थान के 125 से अधिक लोक कलाकार हिस्सा ले चुके हैं। भजन सम्राट अनूप जलोटा ने भी मनीषा अग्रवाल के साथ सूर्य मंत्र पेश करके दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।

एपिसोड में बुंडू खान की मधुर धुनों ने ऐसा शमां बांधा कि लोगों ने दांतों तले अंगुली दबा ली। जीतू के नाजुक डांस मूव्स और बारीकियों ने भी मन मोह लिया। चैरी नृत्य, आग की वाहिकाओं के साथ नृत्य भी मनभावन थे।

मनीषा अग्रवाल के अनुसार पधारो म्हारे देस के अब तक के सभी एपिसोड को जबरदस्त तारीफ मिली है। ये जानकर लोग हैरान रह जाते हैं कि लोक कलाकार अपनी गायकी के माध्यम से सभी को भावविभोर कर देते हैं। आने वाले एपिसाड में अधिक लोक प्रदर्शन और अधिक बेहतर ढंग से पेश किया जाएगा। उन्होंने बताया कि राजस्थान की लोक संगीत परम्पराओं पर श्रृंखला का एक ऑनलाइन क्विज़ युवा लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए अपनी जड़ों के साथ फिर से जुड़ें भी चल रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published.