दुनिया को जल्द ही मोबाइल फोन की बैटरी चार्ज करने से ​मुक्ति मिल जाएगी। वैज्ञानिकों के एक दल ने ऐसे फोन का प्रोटोटाइप विकसित किया है जो बैटरी के बिना काम कर सकता है। यह प्रोटोटाइप बेस फोन फंक्शन डेटा और बटन के माध्यम से उपयोगकर्ता को इनपुट प्राप्त करने में सक्षम बनाएगा। इस फोन से इनकमिंग कॉल, डायल आउट और कॉल को होल्ड भी कर पाएंगे। यानी यह बैटरी-फ्री फोन हर तरह के काम करने में सक्षम होगा।

अमेरिका स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन के एक दल ने ऐसे फोन के आविष्कार का दावा किया है। उनका कहना है कि इस फोन की ऊर्जा आवश्यकता शून्य होगी। शोधकर्ताओं के अनुसार जब कोई व्यक्ति फ़ोन पर बात करेगा तो फोन माइक्रोफोन या स्पीकर में होने वाले कंपन से अपने लिए ऊर्जा जुटाएगा। आवाज को दूसरी ओर भेजने के लिए इसी कंपन की मदद से ध्वनि रेडियो संकेतों में बदल कर भेजी जाएगी। इसी तकनीक की मदद से दूसरी ओर से आवाज ग्रहण की जाएगी।

 

उपयोगकर्ता ट्रांसमिटिंग और लिसनिंग मोड के बीच के बटन को दबाकर काल उठाएंगे और फिर आवाज का संचारण डेटा और बटन के माध्यम से इनपुट प्राप्त कर सकेंगे। इसके अलावा
बैटरी ​फ्री फोन को सभी सेल टावर या वाई-फाई राउटर बेस स्टेशन प्रौद्योगिकी के साथ एम्बेडेड करना होगा। इस फोन को सिर्फ 3.5 माइक्रो वॉट ऊर्जा की आवश्यकता होगी। ये ऊर्जा बेस स्टेशन से 31 फीट दूर प्रेषित रेडियो सिग्नल और चावल के अनाज के आकार जितने एक छोटे सौर सेल मिलेगी।

उल्लेखनीय है कि दुनिया भर में सबसे ज्यादा मोबाइल फोन उपभोक्ता भारत में हैं। भारत में वर्तमान समय में सेल फोन उपभोक्ताओं की संख्या लगभग 730.7 मिलियन है, जबकि स्मार्टफोन उपभोक्ताओं की संख्या लगभग 243.8 मिलियन है।

Leave a comment

Your email address will not be published.