बंद कर दें ट्रेकिंग पाथ तो अंधे और बहरे हो जाएंगे एआई

नई दिल्ली. दुनिया की दो दिग्गज टेक कम्पनियां यूजर्स के डेटा को खुलेआम ट्रेक कर रही हैं और आम भारतीय उनको रोकने में सक्षम नहीं हैं।

गूगल और फेसबुक दुनिया की सबसे बड़ी टेक कंपनियां हैं और ये अपने यूजर्स का डेटा और पर्सनल एक्टिविटी को ट्रैक करती हैं लेकिन हम आपको बता रहे हैं कि कैसे आप इनके ट्रेकिंग पाथ को बंद कर सकते हैं।

डिसेबल करें लोकेशन ट्रैकिंग

फेसबुक और गूगल अकाउंट बनाते समय बहुत लोगों को पता नहीं होता कि वे उन्हें अपनी लोकेशन ट्रैक करने की इजाज़त दे रहे हैं। ये आपको ट्रैक न करें तो फेसबुक अकाउंट की सेटिंग में जाएं और लोकेशन ऑफ कर दें। फोन की सेटिंग में जाकर लोकेशन डिएक्टिवेट करते ही अन्य ऐप भी आपकी लोकेशन ट्रेक नहीं कर पाएंगे।

गूगल को लोकेशन ट्रैक करने से रोकने के लिए वेब यूआरएल में myactivity.google.com पर जाकर सुनिश्चित करें कि आप अपने गूगल अकाउंट में लॉग्ड इन करें। ऐसा करते ही एक्टिविटीज कंट्रोल दिखेगा जहां पर आपको उस ऑप्शन को बन्द करना है। वेब ऐप एक्टिविटी और लोकेशन हिस्ट्री को बंद करते ही गूगल डाटा स्टोर नहीं कर पाएगा।

माइक्रोफोन एक्सेस को डिसेबल करें

कभी-कभी आपको लगता होगा कि गूगल और फेसबुक आपको फोन के माइक से चुपके-चुपके सुन रहे हैं। बहुत से लोगों का मानना है कि गूगल और फेसबुक जैसी कंपनियां माइक के जरिए आपकी जासूसी करती हैं लेकिन अबतक इसे भी कोई प्रूफ नहीं कर पाया है।

गूगल और फेसबुक एक एडवरटाइजिंग प्रोफ़ाइल बनाते हैं जिससे वो आपको बेहतर ऐड प्रेजेंट कर सके. लेकिन ये कंपनियां ऐसा तभी कर पाती हैं जब ये आपकी एक्टिविटीज को ट्रैक करें और रेलेवेंट एड दिखाए। ये कंपनीज ऐसा कहती हैं कि इससे उन्हें बेहतर एड और सर्विस देने की क्षमता बढ़ जाती है लेकिन इसके लिए आपकी प्राइवेसी कॉम्प्रोमाइज होती है।
गूगल पर पर्सनलाइज एड को डिसेबल करने के लिए आप इस लिंक पर जाकर https://adssettings.google.com/authenticated एड पर्सनलाइजेशन को डिसेबल कर दें। फेसबुक न केवल ऑनलाइन फेसबुक एक्टिविटी को ट्रैक करता है जबकि उन वेबसाइट को भी ट्रैक करता है जो कि आप थर्ड पार्टी वेबसाइट को भी एक्सेस करते हैं।
फेसबुक इंफॉर्मेशन पेज पर जाकर ऑफ फेसबुक एक्टिविटी को रिव्यू करने की जरूरत है। इसके अलावा फेसबुक के टारगेटेड एड फीचर को भी डिसेबल कर सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.