बसपा नेता का दावा

नई दिल्ली. अपनी मूर्खतापूर्ण टिप्पणियों से जनता का मनोरंजन करने वाले नेताओं की ओर से एक मजेदार टिप्पणी सामने आई है। बसपा के एक नेता ने दावा किया है कि उत्तरप्रदेश के बड़े इलाके में फैले राजभर समाज के लोगों का कोराना कुछ भी नहीं बिगाड़ पाया क्योंकि वे पवित्र ताडी का जमकर सेवन करते हैं। नेता यहीं नहीं रूके बल्कि ये तक बोल गए कि ताडी गंगा जल से भी ज्यादा पवित्र होती है।

मीडिया में आई खबरों के अनुसार ये ज्ञान उत्तरप्रदेश बसपा के अध्यक्ष भीम राजभर ने बांटा है। उन्होंने एक जिले के रसडा में पार्टी के एक कार्यक्रम में कहा कि ताड़ी पीने से कोरोना नहीं होगा क्योंकि उसकी एक बूंद गंगा जल से भी ज्यादा पवित्र है।

राजभर ने पार्टी कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि उनके (राजभर) समाज का मानना है कि गंगा जल से ज्यादा पवित्र ताड़ी है। ताड़ी में इम्युनिटी पॉवर है, उसे पीने से कोरोना नहीं होगा। हमारे लोग खूब ताड़ी पीते है इसलिए उन्हें कोरोना नहीं होता है, राजभर समाज के लोग बच्चों की परवरिश ताड़ी पिलाकर ही करते हैं।

यहां यह उल्लेखनीय है कि ताड वृक्ष से निकाली जाने वाली ताडी मादक पदार्थ की श्रेणी में आती है और उसे कच्ची शराब का ही एक रूप माना जाता है। पिछडे विशेषकर दलित समुदाय में इसका प्रचलन है और मांगलिक समारोहों में भी उसका सेवन करना बुरा नहीं माना जाता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.