नई दिल्ली.​ सिंगापुर के रेस्तरां अब मुर्गियों को मारकर पकाने की अपेक्षा लैब में तैयार लजीज मांस ग्राहकों को परोसेंगी क्योंकि सिंगापुर सरकार ने लैब में तैयार चिकन बेचने की इजाजत दे दी है।

सिंगापुर में इसी हफ्ते से लैब में तैयार मीट को रेस्तरां में परोसा जाएगा। लैब में मीट बनाने वाली अमेरिकी कंपनी ईट जस्ट ने मांस की बिक्री की शुरूआत कर दी है। सिंगापुर लैब में बने मीट को मंजूरी देने वाला पहला देश बन गया है। अमेरिकी स्टार्ट अप ईट जस्ट किसी जानवर को नहीं काटेगी बल्कि उसे लैब में तैयार करेगी।

पशुओं के मांस का उपभोग एक पर्यावरणीय खतरा है क्योंकि मवेशी ग्रीनहाउस गैस मीथेन का उत्पादन करते हैं। कंपनी ने उत्पाद की पहली व्यावसायिक बिक्री ‘1880’नामक रेस्तरां को की। रेस्तरां रॉबर्टसन क्वे नामक पॉश इलाके में स्थित है। रेस्तरां में तीन चिकन डिश परोसे जाएंगे।

कंपनी का कहना है कि साल 2050 तक मांस की खपत में 70 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि का अनुमान है और लैब में विकसित विकल्पों की भूमिका खाद्य आपूर्ति में अहम होने वाली है। इस बात की चिंता जताई जा रही थी कि लैब में तैयार मांस बहुत महंगा होगा लेकिन ईट जस्ट का कहना है कि कंपनी ने लागत कम रखी है।

Leave a comment

Your email address will not be published.