महिलाओं का सबसे कठिन समय महीने के वो पांच दिन होते हैं। वो पांच दिन जब महिलाएं खुद को महिला होने के लिए कोसती है, लेकिन ये एक शारीरिक चक्र है, जो हर महिला के साथ होता है। लेकिन बदलती जीवनशैली, प्रदूषण और खानपान में बदलाव की वजह से महिलाओं में पीरियड्स के दिनों में बहुत अधिक दर्द की समस्या आज बढ़ती जा रही है। पर कई बार ये दर्द इतना असहनीय हो जाता है कि महिलाएं पेनकिलर दवाइयों का सहारा लेती है, लेकिन अगर आप दवाई खाने से बचना चाहती हैं तो इन घरेलू उपायों को भी अपना सकती हैं।

अदरक का करें उपयोग
पीरियड्स के दर्द में अदरक खाना बहुत फायदेमंद रहता है। आप चाहें तो इसके छोटे-छोटे टुकड़ों को पानी में उबालकर पी सकती हैं। इससे दर्द में आराम मिलेगा।

पपीता है गुणकारी
पपीता पाचन क्रिया को मजबूत बनाने का काम करता है। पीरियड्स के दौरान पपीते का का सेवन करने से दर्द में आराम मिलता है। वैसे भी पपीते का नियमित सेवन स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है।

तुलसी के पत्ते
अगर बहुत दर्द है तो चाय बनाते समय उसमें कुछ पत्ते तुलसी के डाल दें। इस चाय को पीने से दर्द में आराम मिलेगा।

अजवायन का सेवन भी कारगर
पीरियड्स के समय अक्सर महिलाओं को गैस की समस्या हो जाती है। इस वजह से भी उनके पेट में दर्द होता है। इससे बचने के लिए अजवायन का सेवन भी कारगर होगा।

गाजर का जूस
गाजर सिर्फ आंखों के लिए ही नहीं बल्कि यह मासिक धर्म में दर्द से भी राहत दिलाता है। स्त्रीरोग विशेषज्ञ यह बताती हैं, कि एक गिलास गाजर का जूस पीने से मासिक धर्म के दौरान फ्लो ठीक रहता है, साथ ही दर्द में भी आराम मिलता है।

एलोवेरा को शहद में मिलाकर खाएं
इसे घृतकुमारी के नाम से भी जाना जाता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट पाये जाते हैं इसलिए यह पीरियड्स में होने वाले दर्द से आराम दिलाता है। इसे एक चम्मच शहद में मिला कर खाए आराम मिलेगा।

गर्म पानी से नहाएं
गर्म पानी से स्नान रक्त के प्रवाह को अच्छा कर पीरियड्स के फ्लो को सुधारता है, और दर्द से में भी आराम दिलाता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.