नई दिल्ली. शीतलहर ने राजस्थान के चार शहरों को जमा दिया है। इसके अलावा उसके 15 शहर ठंड के प्रकोप से पिछले पन्द्रह दिन से कंपकंपा रहे हैं। यही हाल पंजाब का है जहां पारा पांच डिग्री से नीचे चला गया है। कुल मिलाकर उत्तर भारत भीषण शीतलहर से कांप रहा है। मौसम विभाग का मानना है कि शीतलहर अभी कुछ दिन और जारी रह सकती है।

मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान के 15 शहरों में पारा 5 डिग्री से नीचे और माउंट आबू में माइनस के अंकों पर ठहर गया है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पारा 7 डिग्री पर तो चंडीगढ़ में विजिबिलिटी 20 मीटर रह गई।

राजस्थान के चार शहरों में तापमान जमाव बिंदु से नीचे है। 15 शहरों में पारा 5 डिग्री से भी नीचे पहुंच गया है। माउंट आबू में लगातार दूसरे दिन माइनस 4 डिग्री, फतेहपुर में माइनस 3, चूरू में माइनस 1.5 और जोबनेर में माइनस 1.4 डिग्री तापमान रिकार्ड किया गया। इस बीच झालावाड़ के सुनेल स्थित जोनपुर गांव में सिंचाई कर रहे किसान की ठंड से मौत हो गई।

कड़ाके की ठंड से भोपाल में दिन का तापमान सामान्य से 7 डिग्री कम यानी 18 डिग्री दर्ज किया गया। मध्यप्रदेश के 16 जिलों में ठंड से सब कुछ जमने की स्थिति में है। रायपुर में शीतलहर धीरे-धीरे बेअसर होने की ओर अग्रसर है। रात और दिन का तापमान 2 से 3 डिग्री तक बढ़ गया है।

कड़ाके की सर्दी से पंजाब का अधिकतम तापमान सामान्य से 5 डिग्री नीचे आने के साथ ही सभी जिलों में दिन बेहद ठंडा रहा। पठानकोट, अमृतसर, जालंधर, लुधियाना और पटियाला में रात और दिन ठंड से परेशान हैं। हिमाचल के शिमला में सबसे ठंडा दिन रिकॉर्ड किया गया।

Leave a comment

Your email address will not be published.