किसान आंदोलन से परेशान देश पर दोहरी मार

नई दिल्ली. एक तरफ पूरा देश किसान आंदोलन से परेशान है तो दूसरी ओर सरकारी तेल विपणन कम्पनियां पेट्रोल डीजल के दामों में वृद्धि कर आम भारतीय की कमर तोड़ने में लगी हुई हैं। सरकारी तेल विपणन कंपनियों ने रविवार को लगातार पांचवें दिन पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी की है।

मुंबई में पेट्रोल 90 रुपये प्रति लीटर के ऊपर जा पहुंचा तो राजधानी दिल्ली में दो वर्ष बाद 83 रुपये के पार पहुंच गया है। देश के चार बड़े महानगरों में पेट्रोल के दाम 28 पैसे तक और डीजल 30 पैसे प्रति लीटर तक बढ़े हैं।
दिल्ली में पेट्रोल 83.41 रुपये प्रति लीटर और डीजल 73.62 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। मुंबई में पेट्रोल 90.01 रुपये और डीजल का दाम 80.20 रुपये प्रति लीटर है। चेन्नई में 86.21 और 78.93 रुपये प्रति लीटर हैं।

कोलकाता में पेट्रोल का भाव 84.86 रुपये और डीजल 77.15 रुपये प्रति लीटर हो गया है। पेट्रोल डीजल के दामों पर नजर रखने वाले जानकारों का कहना है कि चूंकि पूरे देश का ध्यान किसान आंदोलन और उससे निपटने की सरकारी कवायद पर लगा हुआ है। ऐसे में पेट्रोल डीजल के बढ़ते भावों पर जनता की नजर नहीं है। इसलिए विपणन कम्पनियां इसे भाव बढ़ाने का स्वर्णिम मौका मान रही हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.