Advertisement
Subscribe for notification

स्ट्रीट्स फॉर पीपल एंड नर्चरिंग नेबरहुड चैलेंज का विजेता बना उदयपुर ! ये किया था काम

Advertisement

गोपेंद्र नाथ भट्ट

Advertisement

नई दिल्ली. भारत सरकार के आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय की स्ट्रीट्स फॉर पीपल चैलेंज योजना के पायलट चरण के शीर्ष 11 पुरस्कृत शहरों में राजस्थान के शहर झीलों की नगरी उदयपुर को भी शामिल किया गया है। उदयपुर शहर को चेतक सर्कल में उदयपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा पहाड़ी बस स्टैंड का निर्माण कर ट्रांजिट अनुभव बदलने के लिए यह पुरस्कार प्रदान किया गया है।

पुरस्कार की सूची में जिन अन्य शहरों को शामिल किया गया है उनमें औरंगाबाद, बंगलुरु, गुरुग्राम, कोच्चि, कोहिमा, नागपुर, पिंपरी-चिंचवाड़, पुणे, उज्जैन, विजयवाड़ा आदि हैं।

आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने एक ऑनलाइन कार्यक्रम में स्ट्रीट्स फॉर पीपल चैलेंज के लिए ग्यारह विजेता शहरों की घोषणा की। इस मौके पर नर्चरिंग नेबरहुड चैलेंज के पायलट चरण के लिए दस विजेता शहरों की घोषणा भी की गई। ये सभी शहर अब चुनौती के बड़े चरण में प्रवेश करेंगे, जिसमें पायलट चरण में शुरू की गई परियोजनाओं को अब स्थायी रूप से आगे बढ़ाया जाएगा।

कार्यक्रम की अध्यक्षता आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय के सचिव मनोज जोशी ने की। इस कार्यक्रम में मंत्रालय ने इंडिया साइकिल्स फॉर चेंज एंड स्ट्रीट्स फॉर पीपल चैलेंजेज के सीजन-2 का शुभारंभ किया और ‘नर्चरिंग नेबरहुड चैलेंज: स्टोरीज फ्रॉम द फील्ड’ नामक पुस्तक का विमोचन भी किया।
कार्यक्रम के प्रतिभागियों में 100 स्मार्ट शहरों के सीईओ सहित इस चैलेंज के आयोजक, भागीदार संगठनों के वैश्विक और भारतीय अधिकारी, विजेता शहरों के प्रतिनिधि, केंद्र तथा राज्य सरकारों के अधिकारी आदि शामिल हुए।

Hindi News: