नई दिल्ली. भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने किसान आंदोलन के संदर्भ में कहा है कि सरकार और किसानों के पास अपनी बात रखने का बेहतर अवसर है। मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने भोपाल में पत्रकारों के किसान आंदोलन से जुड़े सवाल के जवाब में यह टिप्पणी की।

उन्होंने कहा कि लगभग 30 सालों बाद किसान इस तरह एक जगह एकत्रित हुए हैं। सरकार को अपनी बात किसानों तक और किसानों को अपनी बात सरकार तक पहुंचाने का यह सुनहरा अवसर है। लेकिन इस मामले में हठ और अहंकार छोडना होगा। उन्होंने कहा कि वे इस मामले में इससे ज्यादा कुछ नहीं बोलेंगी।

बेकाबू है दिग्विजय की जुबान, इसीलिए नहीं मिला हक

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के राम मंदिर मामले में पूर्व में एकत्रित चंदे का हिसाब मांगने के सवाल पर भारती ने कहा कि वे बहुत ही योग्य और अनुभवी नेता हैं, लेकिन उनका जुबान पर नियंत्रण नहीं है, इसलिए वे कांग्रेस में भी वह मुकाम हासिल नहीं कर पाए, जिसके वे हकदार हैं।

ज्योतिरादित्य को पूरा सपोर्ट

भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को भोपाल में पड़ोस में आवास आवंटित होने के सवाल पर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वे बेहद सौम्य, सरल और बेहतर व्यक्ति हैं और उन्हें खुशी है कि वे उनके पड़ोस में रहेंगे। उन्होंने कहा कि सिंधिया के साथ उनके मधुर संबंध हैं और जब भी उन्हें कोई परेशानी आएगी तो आगे खड़ी मिलेंगी।

Leave a comment

Your email address will not be published.