भरतपुर (राजस्थान). जहरीली शराब उत्तरप्रदेश के आगरा और मथुरा से सटे राजस्थान के भरतपुर जिले के सुन्हेरा गांव पर मौत बनकर टूट पड़ी। गांव में जहरीली शराब पीने से करीब आठ लोगों की मौत हो जाने की खबर है।

जिन्होंने बेची मौत, उनका नाम तक लेने से डरते हैं गांव वाले

कामां थाना क्षेत्र के गांव सुन्हेरा में जिस जहरीली शराब को पीकर लोग दीपावली पर मौत की नींद सो गए, उसे बेचने वालों के खिलाफ गांव में कोई मुंह खोलने को तैयार नहीं है। पुलिस ने क्षेत्र में दबिश दी लेकिन कोई भी आरोपी पकड़ में नही आया। बताया गया कि मौके पर पहुंची पुलिस के सामने गांव का कोई भी व्यक्ति जहरीली शराब बेचने वाले माफिया के खिलाफ मुंह खोलने को तैयार नहीं है।
जिन लोगो की जहरीली शराब से मौत होना बताया जा रहा है, उनके परिजनों ने न तो पुलिस को कोई सूचना दी और न ही मृतकों के शवों का पोस्टमार्टम कराया। उन्होंने बताया कि जिन लोगो की मौत हुई है, वे आदतन शराबी थे।

सन्नाटा ऐसा कि चूल्हे तक नहीं जले

जानकारी के अनुसार गांव से शराब पीकर उत्तरप्रदेश के मथुरा अपने घर गए एक व्यक्ति की भी मौत की जानकारी पुलिस को मिली है। पुलिस ने बताया कि उत्तरप्रदेश निवासी मृतक के शव का पोस्टमार्टम मथुरा में किया गया। जहरीली शराब से गांव में हुई इतनी मौतों के बाद गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। दीपावली पर घरो में चूल्हे नहीं जले। बताया गया है कि जहरीली शराब के सेवन के बाद कई गंभीर रुप से बीमार पड़े लेकिन बीते तीन दिनों में पुलिस एवं प्रशासनिक स्तर पर इस दिशा में कोई कदम तक नही उठाया गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.