जयपुर. कोरोना से निपटने के लिए शनिवार से शुरू हो रहे टीकाकरण अभियान के तहत जयपुर शहर में टीकाकरण के 20 सेंटर बनाए गए हैं। अभियान की शुरूआत जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल के प्रिंसीपल सुधीर भंडारी को टीका लगाकर की जाएगी।

पूरे राजस्थान में 168 सेंटर

जानकारी के अनुसार जयपुर में प्रशासन ने पहले चरण के टीकाकरण अभियान के लिए जो 20 केन्द्र बनाए हैं, उनमें एसएमएस अस्पताल, एसएमएस मेडिकल कॉलेज, एस.आर. गोयल सेठी कॉलोनी सेटेलाइट अस्पताल, जे.के. लोन अस्पताल, एसडीएमएच अस्पताल, जनाना अस्पताल, मनीपाल अस्पताल, महिला चिकित्सालय, जयपुर अस्पताल (लाल कोठी), ईएचसीसी अस्पताल, फोर्टिस अस्पताल, जयपुरिया अस्पताल, महात्मा गांधी अस्पताल, आरयूएचएस प्रताप नगर, ईएसआई अस्पताल, कावंटिया अस्पताल, गणगौरी अस्पताल, मेट्रोमास अस्पताल, नारायणा हृदयालय और जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी शामिल हैं। पूरे राजस्थान में 168 टीकाकरण केन्द्र बनाए गए हैं।

जयपुर में पहला टीका लगवाने को तैयार डा. सुधीर भंडारी का कहना है कि वैज्ञानिको ने बड़ी मेहनत से वैक्सीन तैयार की हैं। जनता और पूरे देश को वैज्ञानिकों पर भरोसा है। उन्होने कहा कि वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार राज्य में पहले चरण का अभियान 10 दिन चलेगा। चिकित्सा निदेशक लक्ष्मण सिंह ओला के अनुसार पहले चरण पूरा होने के बाद धीरे-धीरे वैक्सीनेशन सेंटर्स की संख्या को बढ़ाया जाएगा।

0.5 एमएल की होगी पहली खुराक

राजस्थान को अभी दो कंपनियों के कुल 5 लाख 63 हजार वैक्सीन डोज मिल चुके हैं। इसमें कोवीसिल्ड के 4 लाख 43,000 और कोवैक्सीन के 20 हजार डोज मिले है। टीका लगवाने वालें को 0.5 एमएल की खुराक दी जाएगी। इसके 28 दिन बाद 0.5 एमएल की दूसरी खुराक भी उसी कंपनी की दी जाएगी। कोरोना वैक्सीनेशन के लिए कोविन सॉफ्टवेयर में पूरे प्रदेश से 6 लाख से अधिक लाभार्थियों का डेटा अपलोड किया जा चुका है। इसमें 4,87,381 सरकारी व निजी संस्थानों के लाभार्थी है। केन्द्रीय मंत्रालयों के 6758 लाभार्थी है। जबकि 1,01,761 फ्रंटलाइन वर्कर्स का डेटा भी अपलोड हो चुका है।

Leave a comment

Your email address will not be published.