जयपुर. राजस्थान में करीब सात लाख नए वोटर मतदाता सूची में शामिल किए गए हैं। ये सभी 18 से 19 आयुवर्ग के हैं।  राजस्थान के मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने सोमवार को राजनीतिक दलों के साथ बैठक में ये जानकारी दी। गुप्ता ने बताया कि प्रदेश में 1 जनवरी, 2021 तक किए गए मतदाता सूचियों के विशेष पुनरीक्षण कार्यक्रम में कुल 10,61,303 मतदाताओं के नाम जोड़े गए। इनमें से 5,61,732 पुरुष और 4,99,571 महिला मतदाता हैं। जोड़े गए नामों में से 18-19 आयु वर्ग के 6,95,016 युवा मतदाता हैं।

मतदाता सूचियों से मृत या स्थानान्तरित कुल 3,55,706 मतदाताओं के नाम हटाए गए हैं। इनमें से 1,82,477 पुरूष मतदाता एवं 1,73,229 महिला मतदाताओं के नाम विलोपित किए गए। कुल 7,05,597 नए मतदाता पंजीकृत किए गए हैं। इनमें 3,79,255 पुरूष एवं 3,26,342 महिला मतदाता हैं।

पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान मतदाताओं की संख्या में 1.44 प्रतिशत वृद्धि हुई है। गुप्ता ने बताया कि 18 जनवरी, 2021 को अन्तिम रूप से प्रकाशित मतदाता सूचियों में कुल 4,95,80,319 मतदाता पंजीकृत हैं। इनमें 2,58,47,752 पुरूष एवं 2,37,32,567 महिला मतदाता हैं। 21 नवम्बर, 2020 को प्रकाशित प्रारूप मतदाता सूची में 4,88,74,722 मतदाता थे।

यहां देखें कि आप वोटर हैं अथवा नहीं

https://ceorajasthan.nic.in/ पर सभी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की मतदाता सूचियों का अन्तिम प्रकाशन कर दिया गया है। विभाग की वेबसाइट पर जिलेवार या विधानसभा क्षेत्रवार या भागवार मतदाता सूचियां आम नागरिकों के लिए उपलब्ध है। मतदाता सूची से जुड़ी किसी भी शिकायत या सुझाव के लिए मतदाता वोटर हैल्प लाइन नंबर या टोल फ्री नंबर 1950 पर डायल कर सकते हैं। मतदाता नेशनल वोटर्स सर्विस पोर्टल की भी मदद ले सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.