नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर के विपक्षी दलों को आडे हाथों लेते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस और गुपकर गैंग जम्मू कश्मीर को फिर से आतंक के दौर में ले जाना चाहते हैं।
गुपकर घोषणा पत्र को लेकर जम्मू और कश्मीर में चल रही सरगर्मियों के बारे में शाह ने कई ​ट्वीट कर इन सभी दलों की कड़ी आलोचना की और कहा कि ये चाहते हैं कि विदेशी ताकतें जम्मू और कश्मीर में हस्तक्षेप करें। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी नेता राहुल गांधी से भी गुपकर के बारे में अपना रूख स्पष्ट करने को कहा।

तिरंगे का किया है अपमान

शाह ने ट्वीट में लिखा कि गुपकर गैंग वैश्विक हो रहा है। वे चाहते हैं कि विदेशी ताकतें जम्मू और कश्मीर में हस्तक्षेप करें। गुपकर गैंग ने भारत के तिरंगे का अपमान किया है। क्या सोनियाजी और राहुलजी गुपकर गैंग के इन कदमों का समर्थन करते हैं? उन्हें देश के लोगों के समक्ष अपना रूख स्पष्ट करना चाहिए।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस और गुपकर गैंग जम्मू कश्मीर को एक बार फिर आतंक तथा उथल पुथल वाले दौर में ले जाना चाहते हैं। वे दलितों, महिलाओं और आदिवासियों के अधिकारों को छीनना चाहते हैं जो हमने अनुच्छेद 370 को हटाकर सुनिश्चित किये हैं। इसीलिए लोग उन्हें हर जगह खारिज कर रहे हैं।

गृह मंत्री ने जोर देकर कहा कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग रहा है, है, सदैव रहेगा। भारत के लोग राष्ट्रीय हितों के खिलाफ किसी भी अपवित्र गठबंधन को अब और बर्दाश्त नहीं करेंगे। या तो गुपकर गैंग राष्ट्रीय मूड के साथ चले अन्यथा लोग इसे डुबो देंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published.