नई दिल्ली. देश के सांसद अब भी सबसे सस्ती रोटी का लुत्फ उठाएंगे। उन्हें एक रोटी सिर्फ तीन रूपए में मिलेगी जबकि देश में साधारण ढाबों पर भी रोटी की कीमत पांच रूपए है। इस बीच संसद की कैंटीन में भोजन की दरें बढ़ा दी गई है और 29 जनवरी से लेकर 15 फरवरी तक चलने वाले संसद के बजट सत्र में खाने पर मिलने वाली सब्सिडी पूरी तरह से खत्म होने के बाद parliament canteen price list: नई लिस्ट जारी कर दी गई है। अब संसद की कैंटीन में 100 रुपए की शाकाहारी थाली और 700 रुपए में नॉनवेज बुफे लंच मिलेगा।

75 रूपए में मिलेगी चिकन करी

parliament canteen price list: नई रेट लिस्ट के अनुसार अब संसद की कैंटीन में सबसे सस्ती रोटी रह गई है, जिसकी कीमत तीन रुपए है। वहीं, नॉनवेज बुफे लंच के लिए 700 रुपए खर्च करने होंगे। चिकन बिरयानी 100 रुपए, चिकन करी 75 रुपए, प्लेन डोसा 30 रुपए, मटन बिरयानी 150 रुपए में मिलेगी। वेजिटेबल पकौड़े के लिए 50 रुपए खर्च करने पड़ेंगे।

सब्सिडी खत्म होने के बाद नए दाम पर मिलेगा खाना

इससे पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने parliament canteen price list: कैंटीन से सब्सिडी खत्म करते हुए कहा था कि सांसदों और अन्य लोगों को मिलने वाली सब्सिडी पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। लोकसभा की बिजनेस एडवाइजरी कमेटी में सभी दलों के सदस्यों ने एक राय बनाते हुए इसे खत्म करने पर सहमति जताई थी। अब कैंटीन में मिलने वाला खाना तय दाम पर ही मिलेगा।

17 करोड़ का मिलता था अनुदान

हर साल संसद की कैंटीन को सालाना करीब 17 करोड़ रुपये की सब्सिडी दी जा रही थी। 2017-18 की parliament canteen price list: रेट लिस्ट के मुताबिक संसद की कैंटीन में चिकन करी 50 रुपए में और वेज थाली 35 रुपए में परोसी जाती थी। थ्री कोर्स लंच की कीमत 106 रुपए थी। साउथ इंडियन फूड में प्लेन डोसा सांसदों को मात्र 12 रुपए में मिलता था। 29 जनवरी से शुरू होने वाले संसद सत्र के दौरान राज्यसभा की कार्यवाही सुबह नौ बजे से दोपहर दो बजे तक होगी और लोकसभा की कार्यवाही शाम चार से रात आठ बजे तक होगी। संसद सत्र के दौरान पूर्व निर्धारित एक घंटे के प्रश्नकाल की अनुमति रहेगी।

Leave a comment

Your email address will not be published.