जयपुर. प्रदेश में करीब दस माह बाद खुल रहे स्कूलों में कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थी पहुंचेंगे। इन स्कूलों में कोरोना गाइड लाइन की पालना की चेकिंग प्रशासनिक अधिकारी करेंगे।
स्कूलों ने क्लास शुरू करने से पहले कोरोना गाइड लाइन की पालना की पूरी तैयारी कर ली है। स्कूलों में एंट्री प्वाइंट पर सोशल डिस्टेंस के लिए सफेद गोले बनाए गए हैं। गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग और सैनेटाइजेशन की व्यवस्था की गई है।

इस बीच खबर है कि कई स्कूलों में क्लास शुरू होने के बाद ऑफलाइन क्लास भी चलेंगी। स्कूलों ने विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों को विकल्प दिया है कि अगर वे बच्चे को स्कूल नहीं भेजना चाहें तो विद्यार्थी आनलाइन क्लास भी ज्वाइन कर सकेंगे।

कोरोना गाइडलाइन के तहत NO MASK, NO ENTRY रहेगी।स्कूल में आने वाले सभी विद्यार्थियों को मास्क पहनकर ही प्रवेश करना होगा। क्लास में प्रवेश से पहले थर्मल स्क्रीनिंग होगी। स्कूल पहुंचने वाले विद्यार्थियों को पैरेंट्स का लिखित सहमति पत्र लाना होगा। सहमति पत्र स्कूल गेट पर ही चेक किया जाएगा। स्कूल परिसर में 6 फीट की दूरी पर लाइन में खड़ा होना होगा। इसके लिए एंट्री गेट से क्लास तक सर्किल बनाए गए हैं। स्कूलों में प्रवेश करने पर विद्यार्थियों के हाथ सैनेटाइज करवाए जाएंगे।

एक क्लास में सिर्फ 15 से 20 बच्चे

राजधानी जयपुर का विद्याश्रम स्कूल 18 जनवरी को 9 बजे खुलेगा। स्कूल में ऑफलाइन के साथ-साथ ऑनलाइन कक्षाएं भी चलेंगी। एक कक्षा में 12 से 15 विद्यार्थियों के बैठने की व्यवस्था की गई है। पहले एक कक्षा में 40 से 50 बच्चे बैठते थे। स्कूल दो पारियों में चलेगा। इनमें 9वीं और 11वीं के छात्रों का वक्त सुबह 10 बजे से दोपहर 1.30 बजे तक रहेगा। 10 वीं और 12वीं के स्टूडेंट का स्कूल टाइम सुबह 9:30 बजे से दोपहर 12.45 तक रहेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.