नई दिल्ली. ना शराब मिलेगी ना कबाब, जी हां, देश भर में पुलिस ने नववर्ष समारोहों पर इसी पंचलाइन को आधार बनाकर नए साल के जश्न मनाने पर रोक लगा दी है। पुलिस ने देश के तमाम राज्यों में गाइड जारी करके कहा है कि नए साल (New Year 2021) पर कोरोना वायरस के प्रसार का अंदेशा देखते हुए ये पाबंदिया लगाई गई है। पुलिस ने होटलों और सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित कर नए साल का स्वागत करने की तैयारी करने वाले आयोजकों से कहा है कि वे गाइड लाइन का सख्ती से पालन करें अन्यथा उनका नया साल…….।

बतानी होगी मेहमानों की संख्या

देश भर से आ रही खबरों के मुताबिक कहीं युवाओं को शराब ना देने के निर्देश दिए गए हैं तो कहीं लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू की समयावधि बढ़ा दी गई है। खबरों के अनुसार पंजाब सरकार ने एक जनवरी से रात का कर्फ्यू समाप्त करते हुए लोगों से अनुरोध किया है कि रात को कर्फ्यू से जुड़ी पाबंदियां सभी शहरों और कस्बों में 31 दिसंबर तक प्रभावी रहेंगी। इसी तरह उत्तर प्रदेश के जिलों में कोई भी कार्यक्रम करने के लिए जिलाधिकारी या कमिश्नर से अनुमति जरूरी कर दी गई है। अनुमति देते समय अधिकारी आयोजक का नाम पता नंबर और आमंत्रित लोगों की अनुमानित संख्या भी लिखित में लेंगे। उत्तरप्रदेश के मुख्य सचिव आरके तिवारी ने आदेश में कहा है कि आयोजक कोविड प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन करवाएं। कार्यक्रम में मास्क, सैनेटाइजर का इंतजाम रखने के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन किया जाए।

दिल्ली में एकत्रित होने पर रोक

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने दिल्ली में रात का कर्फ्यू लगा लगाने की घोषणा के साथ स्पष्ट किया है कि सार्वजनिक स्थान पर पांच से अधिक व्यक्ति इकट्ठा नहीं हो पाएंगे। राज्य में नए साल के जश्न कार्यक्रम नहीं होंगे। सार्वजनिक स्थानों पर 31 दिसंबर रात 11 बजे से 1 जनवरी की सुबह 6 बजे तक और 1 जनवरी की शाम 11 बजे से 2 जनवरी के 6 बजे तक सार्वजनिक बैठक या सभा की अनुमति नहीं दी जाएगी।

महाराष्ट्र में रिश्तेदारों के घर जा सकेंगे

महाराष्ट्र में प्रशासन ने 31 दिसंबर रात दस बजे बाद आयोजनों पर पाबंदी लगा दी है। आदेश में कहा गया है कि सातारा जिले में पहाड़ी पर्यटन केंद्रों पर नव वर्ष की पूर्व संध्या पर होटलों, रेस्तरांओं और ढाबों को रात ग्यारह बजे के बाद संचालित करने की अनुमति नहीं होगी। राज्य में होटल, रेस्तरां, पब और बार 31 दिसंबर को रात 11 बजे तक खुले रहेंगे। सार्वजनिक स्थानों पर पांच या ज्यादा लोगों के जमावड़े पर प्रतिबंध रहेगा लेकिन दवा खरीदने और रिश्तेदारों, दोस्तों के घर जाने के लिए बाहर निकलने पर पाबंदी नहीं होगी।

मध्यप्रदेश में नहीं मिलेगी अंगूरी

इधर मध्यप्रदेश के इंदौर में 21 साल से कम उम्र के लोगों को शराब बिक्री नहीं होगी। मध्यप्रदेश आबकारी अधिनियम, 1915 के प्रावधानों के मुताबिक 21 वर्ष से कम उम्र के लोगों को लाइसेंसी दुकानों से देशी-विदेशी शराब या अंगूर से बनी मदिरा बेचने और परोसने पर पाबंदी लगा दी गई है। छत्तीसगढ़ में नए वर्ष के दौरान खुले स्थान पर कार्यक्रम नहीं हो सकेंगे।

गोवा में नववर्ष के जश्न और पार्टियां फीकी रहेंगी क्योंकि उड़ानों पर रोक के कारण राज्य में विदेशी पर्यटकों की कमी आ गई है। बेंगलुरु समेत पूरे कर्नाटक में 31 दिसंबर की शाम छह बजे से लेकर एक जनवरी की सुबह छह बजे तक निषेधाज्ञा लागू रहेगी।

Leave a comment

Your email address will not be published.