जयपुर. राज्य निर्वाचन आयुक्त पीएस मेहरा ने स्थानीय निकाय चुनाव लड़ने वाले नेताओं से अपील की है कि वे कोरोना संबंधी गाइडलाइंस की पालना कड़ाई से करें। भले ही प्रदेश में पिछले कुछ दिनों से कोरोना के पॉजीटिव केसेज में कमी आई है लेकिन स्थानीय निकायों में सदस्य का चुनाव लड़ने वाले राजनैतिक दल, उम्मीदवार व समर्थक लापरवाही नहीं करें।

निकायों में सदस्य पद के लिए 11 जनवरी से नामांकन पत्र दाखिल करने का काम शुरू हो गया है। पहले दिन 121 उम्मीदवारों ने 150 नामांकन पत्र दाखिल किए। नामांकन पत्र 15 जनवरी 3 बजे तक प्रस्तुत किए जा सकेंगे। नामांकन पत्रों की जांच 16 जनवरी सुबह 10ः30 बजे से होगी। अभ्यर्थी 19 जनवरी अपराह्न 3 बजे तक नाम वापस ले सकेंगे। चुनाव चिन्हों का आवंटन 20 जनवरी को किया जाएगा। 28 जनवरी को सुबह 8 से शाम 5 बजे तक मतदान होगा। मतगणना 31 जनवरी को सुबह 9 बजे से होगी।

आयुक्त के अनुसार प्रदेश के 20 जिलों (अजमेर, बांसवाड़ा, बीकानेर, भीलवाड़ा, बूंदी, प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़, चूरू, डूंगरपुर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, जालौर, झालावाड़, झुंझुनूं, नागौर, पाली, राजसमंद, सीकर, टोंक और उदयपुर) के 90 निकायों (1 नगर निगम, 9 नगर परिषद और 80 नगर पालिका) में सदस्य पद के लिए चुनाव कराए जा रहे हैं।

मेहरा के अनुसार निकाय अध्यक्ष के लिए 1 फरवरी को अधिसूचना जारी होगी। नामांकन पत्र 2 फरवरी अपराह्न 3 बजे तक प्रस्तुत किए जा सकेंगे। नामांकन पत्रों की जांच 3 फरवरी को होगी। 4 फरवरी को अपराह्न 3 बजे तक नामांकन वापस लिया जा सकेगा। चुनाव चिन्हों का आवंटन 4 फरवरी को को ही किया जाएगा। अध्यक्ष के लिए मतदान 7 फरवरी को सुबह 10 से अपराह्न 2 बजे तक होगा। मतगणना मतदान समाप्ति के तुरन्त बाद होगी। उपाध्यक्ष का चुनाव 8 फरवरी को होगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.