नई दिल्ली. देश की जनता के सपनों का राम मंदिर 400 करोड़ की लागत से तैयार होगा। इसके अलावा 700 करोड़ रूपए उस भूमि के विकास पर खर्च किए जाएंगे जिसे राम मंदिर परिसर का दर्जा दिया गया है। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के कोषाध्यक्ष स्वामी गोविंद देव गिरि महाराज ने यह जानकारी दी है।

Cost of construction of Ram temple: मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण कार्य करीब तीन साल में पूरा होगा। न्यास कोषाध्यक्ष स्वामी गोविंद देव गिरि महाराज ने कहा कि मुख्य मंदिर का निर्माण तीन-साढ़े तीन साल में पूरा होगा और उसपर 300-400 करोड़ रुपये खर्च होने की संभावना है। पूरी 70 एकड़ भूमि के विकास कार्य में 1,100 करोड़ रुपये से ज्यादा की लागत आने की संभावना है। उन्होंने कहा कि राम मंदिर निर्माण परियोजना से जुड़े विशेषज्ञों के साथ सलाह करने के बाद वह लागत के इस अनुमान पर पहुंचे हैं। एक मराठी टीवी चैनल से बातचीत में उन्होंने कहा कि न्यास ने अभी तक मंदिर निर्माण की लागत पर कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया है।

कारपोरेट आए थे लेकिन हमने मना कर दिया

Cost of construction of Ram temple: उन्होंने कहा, ‘हमारे लिए (मंदिर निर्माण हेतु) कुछ कॉरपोरेट से धन एकत्र करना संभव था। कुछ (कॉरपोरेट) परिवार हमारे पास आए थे। उन्होंने अनुरोध किया था कि मंदिर का डिजाइन उन्हें सौंप दिया जाए। उन्होंने आश्वासन दिया था कि वे मंदिर परियोजना को पूरा करेंगे। लेकिन मैंने विनम्रता से उन्हें मना कर दिया।

हमारी आंखों पर चश्मा नहीं चढ़ा

राम मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रह अभियान 2024 के लोकसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए भाजपा का अभियान होने को लेकर कुछ हलकों द्वारा आलोचना किये जाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘लोगों की आंखों पर जैसा चश्मा चढ़ा होता है, उन्हें वही दिखाई देता है. हमारी आंखों पर कोई चश्मा नहीं चढ़ा हुआ है और हमारी आंखें भक्ति की राह पर हैं। हमारा लक्ष्य 6.5 लाख गांवों और 15 करोड़ घरों तक पहुंचने का है। Cost of construction of Ram temple

अपमान नहीं होने की गारंटी हो तो सोनिया से लेने जाएंगे दान

यह पूछने पर कि क्या वह मंदिर निर्माण के लिए दान लेने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के आवास मातो श्री जाएंगे, उन्होंने कहा कि अगर वह दान देने को तैयार हैं, तो मैं वहां जाउंगा। शिवसेना नेता और महाराष्ट्र विधान परिषद की उप सभापति नीलम गोरे ने हमें एक किलोग्राम चांदी की ईंट दी है। महाराज ने पिछले सप्ताह राष्ट्रपति भवन जाकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मंदिर निर्माण के लिए 5,00,100 रुपये का चंदा प्राप्त किया था। यह पूछने पर कि मंदिर निर्माण के लिए क्या वह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के पास भी जाएंगे, महाराज ने कहा कि मैं ऐसा करने को तैयार हूं, बशर्ते कोई मुझे गारंटी दे कि वहां मेरा अपमान नहीं किया जाएगा। Cost of construction of Ram temple

Leave a comment

Your email address will not be published.