क्या इन दिनों आप स्वयं को एकदम थका-थका, किसी काम में मन नहीं लगना और हर समय भय सताते रहने जैसी स्थिति का सामना कर रहे हैं तो फिर घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि आप उस समस्या का सामना कर रहे हैं जो आपके शरीर से उत्पन्न हो रही है. यानी हार्मोन असंतुलन की वजह से शरीर आपको संकेत भेज रहा है ​कि संभल जाओ अन्यथा फिर………

बता दें कि महिलाओं की तरह पुरूषों में भी एक उम्र होने के बाद हार्मोनल असंतुलन होता है. उससे पुरुषों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है. शरीर को स्वस्थ रहने के लिए हार्मोन संतुलन आवश्यक है. खराब खान-पान, इनएक्टिव लाइफस्टाइल, तनाव पुरुषों को हार्मोनल असंतुलन की ओर धकेलता है. इसकी वजह से यौनेच्छा में, कमी इरेक्टाइल डिसफंक्शन समेत अन्य ऐसे लक्षण दिखते हैं जिनकी वजह से लाइफ बेडरूम से लेकर आफिस तक नर्क जैसी बन जाती है. इससे निजात पाने का एक ही उपाय है और वह है हार्मोनल असंतुलन को दूर करना.

एक्सरसाइज

शारीरिक सक्रियता में कमी पुरुष हार्मोन में कमी का बड़ा कारण है. अगर आपके शरीर में भी हार्मोन का स्तर गिर गया है तो एक्सरसाइज करना शुरू कर दें. एक्सरसाइज से वजन कंट्रोल होगा और नियंत्रित वजन वाला शरीर हार्मोनल असंतुलन को स्वयं अपने स्रोतों से दूर कर देता है. योग, मेडिटेशन और प्राणायाम भी उपाय है.

इनटेक बढ़ाएं

हार्मोन असंतुलन मिटाने के लिए हेल्दी डाइट जरूरी है. डाइट में प्रोटीन, फैट और कार्ब्स आवश्यक हैं. लो फैट डाइट हार्मोन को असंतुलित कर सकती है, इसलिए हाई फैट लेना फायदेमंद है.

स्ट्रेस

तनाव हार्मोन का स्तर असंतुलित करता है. हार्मोन असंतुलन के लक्षण दूर करने के लिए स्ट्रेस कम करने की जरूरत है. अगर तनाव कम लेंगे तो वजन भी नियंत्रण में रहेगा. तनाव कम करने के लिए मेडिटेशन करें और पर्याप्त नींद लें.

विटामिन डी

विटामिन डी पुरुषों में हार्मोन स्तर बढ़ाता है. विटामिन डी युक्त फूड्स का सेवन या फिर डॉक्टर की सलाह पर विटामिन डी सप्लीमेंट्स लें. धूप से विटामिन डी जरूर लें.

नींद लें

नींद की कमी हार्मोन कम होने का मुख्य कारण है. शरीर में हार्मोन स्तर कम है तो रोजाना 7 से 9 घंटे की नींद लें.

Leave a comment

Your email address will not be published.