नई दिल्ली. बिहार के मधुबनी में खेत पर बकरी चराने गई विकलांग नाबालिग से गैंगरेप की खबर है। पुलिस के अनुसार पीड़िता की आंखें किसी नुकीले हथियार से फोड़ दी गई हैं। अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि पीड़िता आंखों की रोशनी बरकरार है अथवा नहीं। फिलहाल डॉक्टर लड़की की देखभाल कर रहे हैं क्योंकि उसकी हालत गंभीर है।

हरलाखी थाना क्षेत्र के कौवाहा बरही गाँव में मंगलवार को हुए इस कांड के तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पीड़िता बकरियों चराने जा रही थी। खबरों के अनुसार पुलिस अधीक्षक सत्य प्रकाश ने बताया कि सभी आरोपी एक ही गाँव के हैं। ग्राम प्रधान राम एकबाल मंडल का कहना है कि लड़की कुछ अन्य बच्चों के साथ गांव के बाहर एक खेत में बकरी चराने के लिए गई थी। बच्चों में से एक ने लड़की के परिवार को घटना के बारे में सूचित किया। उन्होंने उसे पड़ोसी मनोहरपुर गाँव के एक बंजर खेत में बेहोश पड़ा पाया। पीड़िता को पास के उमगांव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया, जहां से डॉक्टरों ने उसे मधुबनी सदर अस्पताल रैफर कर दिया।

उधर बिहार के ही राजगीर में नाबालिग से गैंगरेप के एक अन्य मामले में कोर्ट ने आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। पुलिस ने मामले में सात युवकों को गिरफ्तार किया था। इस घटना के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए थे। ये कांड 16 सितंबर 2019 को हुआ था। पीड़िता घर से कोचिंग के लिए निकली थी और रास्ते में आरोपियों ने उस पर हमला बोल दिया था। पीड़िता का मेडिकल टेस्ट हुआ था और मजिस्ट्रेट के सामने उसने बयान भी दिया था।

घटना के समय पीड़िता ने बार-बार आरोपियों से रहम की भीख मांगी लेकिन दरिंदों ने उसे जाने नहीं दिया। वीडियो में दिख रहे आरोपियों की जल्द ही पहचान कर ली गई थी क्योंकि सभी स्थानीय ही थे। इधर बेगूसराय में बड़े भाई ने छोटे भाई की पत्नी का गला रेत दिया। बेगूसराय के बछवारा थाना क्षेत्र के रसीदपुर में छोटे भाई की पत्नी का गला रेत कर हत्या करने के बाद बड़े भाई ने खुद भी जहर खाकर जान दे दी। मृत महिला 35 वर्षीय विमला देवी थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.