नई दिल्ली. कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड की ढाई लाख खुराक दिल्ली के केंद्रीय भंडारण केंद्र राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल (आरजीएसएसएच) तक पहुंच गई है।

टीके की खेप लेकर सुबह करीब दस बजे स्पाइसजेट की उड़ान दिल्ली हवाई अड्डे पर उतरी। दिल्ली पुलिस ने दिल्ली के सबसे बड़े कोविड-19 अस्पताल तक उसे ग्रीन कोरिडोर बनाकर पहुंचवाया। ज्ञात रहे कि 16 जनवरी से देशभर में कोरोना वायरस के विरूद्ध टीकाकरण अभियान शुरू होने वाला है। टीके को लेकर ट्रक करीब तीन बजकर 10 मिनट पर अस्पताल पहुंचा। आरजीएसएसएच में टीका भंडारण केन्द्र बनाया गया है।

दिल्ली के पुलिस उपायुक्त राजीव रंजन के अनुसार भंडार स्थल पर पर्याप्त सुरक्षा प्रबंध हैं और पुलिस गाड़ियां उसके आसपास चक्कर लगाएंगी। एक दूसरे पुलिस उपायुक्त अमित शर्मा के अनुसार राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के भंडारण क्षेत्र में कर्मी तैनात किए गए हैं।

टीके आरजीएसएसएच से कड़ी सुरक्षा में विशेष वाहनों से टीकाकरण केंद्रो पर पहुंचाएंगे जाएंगे। दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में सरकारी एवं निजी अस्पतालों समेत 89 स्थान निर्धारित किये हैं जहां टीकाकरण के पहले चरण में करीब तीन लाख स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाएगा। इनमें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, सफदरजंग अस्पताल, एलएनजेपी अस्पताल, जीटीबी अस्पताल, अपोलो अस्पताल और मैक्स अस्पताल आदि शामिल हैं।

माना जा रहा है कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में 16 जनवरी को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की मौजूदगी में सादे समारोह में टीकाकरण शुरू होगा। भारत के दवा नियंत्रक ने कोविशील्ड और कोवैक्सीन को देश में सीमित आपात उपयोग की मंजूरी दी थी। कोविशील्ड को ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय एवं ब्रिटिश स्वीडिश कंपनी आस्ट्रेजेनेका ने विकसित किया है और उसका उत्पादन सेरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने किया है। कोवैक्सीन भारत बायोटेक द्वारा विकसित स्वदेशी टीका है।

Leave a comment

Your email address will not be published.