मंदाकिनी तट पर होगा गायों की अस्थियों का विसर्जन

नई दिल्ली. जिस गाय को केन्द्र में रखकर भाजपा की राज्य सरकारें विपक्ष खासकर कांग्रेस को कठघरे में खड़ी करती रही हैं, अब उसी गाय को कांग्रेस उत्तरप्रदेश की योगी सरकार के गले में बांधने की तैयारी में है।

वह ललितपुर की सौजना गौशाला से शनिवार को शुरू हुई गाय बचाओ यात्रा का समापन चित्रकूट में मंदाकिनी नदी के तट पर उन गायों की अस्थियों के विसर्जन के साथ करेगी, जो इन दिनों चारे-पानी के अभाव में दम तोड़ रही हैं।

यात्रा उत्तरप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू के नेतृत्व में निकाली जा रही है। यात्रा बुंदेलखंड के सभी जिलों से होकर गुजरेगी। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने यूपी में गोशालाओं की बदहाली को लेकर सीएम योगी को पत्र लिखा था।

ललितपुर की सौजना गौशाला से पिछले दिनों एक दर्जन से अधिक गायों की मौत की खबर आई थी। उन गायों की अस्थियों को ले जाकर चित्रकूट की मंदाकिनी नदी के तट पर विसर्जित किया जाएगा। चूंकि बुंदेलखंड में गाय अर्थव्यवस्था का अहम हिस्सा हैं, इसलिए यात्रा का नाम ‘गाय बचाओ, किसान बचाओ’ रखा गया है।

यूपी कांग्रेस का आरोप है कि सौजना कस्‍बे में गाय के नाम पर घोटाला किया जा रहा है। जिन गायों की मौत हो रही है, उनके शव नई गौशाला में दफनाए जा रहे हैं। जब से बीजेपी सरकार बनी है, तब से किसान और गाय दोनों खतरे में हैं। बदहाल गोशालाएं यूपी में अहम मुद्दा है। राज्य सरकार गोसेवा के नाम पर प्रोपोगेंडा कर रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published.