नई दिल्ली. आल इंडिया यूनानी तिब्बी कांग्रेस दिल्ली प्रदेश ने आयुष विभाग दिल्ली सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए दिल्ली के उपराज्यपाल वी के सक्सेना से निदेशालय निदेशक के पद पर आईएएस अधिकारी को नियुक्त करने की मांग की है।

डॉ संजय धींगरा की अध्यक्षता में हुई बैठक में मांग की गई कि लोकतंत्र के हनन को रोका जाए।दिल्ली भारतीय चिकित्सा परिषद में नियमित तौर पर रजिस्ट्रार की नियुक्ति की जाए। नियमित रजिस्ट्रार के नहीं होने की वजह से ही वर्षों से डीबीसीपी के चुनाव लंबित पड़े हुए हैं।

बैठक में कहा गया कि मौजूदा निदेशक होम्योपैथी के डॉक्टर हैं जबकि डीबीसीपी का संबंध आयुर्वेद एवं यूनानी डॉक्टरों से है।

बैठक में यह भी कहा गया कि मसीहुल मुल्क ए एंड यू तिब्बिया कॉलेज को विश्वविद्यालय के रूप में विकसित करने में किसी तरह की दिलचस्पी नहीं दिखाई गई है। यहां इतिहास को बदलने की चेष्टा करते हुए दो प्राचार्य आयुर्वेद एवं यूनानी के रखने का प्रस्ताव लाया गया।

इसलिए राजपाल महोदय से आयुष विभाग में किसी आईएएस रैंक के अधिकारी को नियुक्त करने की मांग की है ताकि निदेशालय आयुष विभाग दिल्ली सरकार अच्छी तरह से काम कर सके।

 

Leave a comment

Your email address will not be published.