नई दिल्ली. टीआरपी घोटाले के आरोपी और ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल के पूर्व सीईओ पार्थ दासगुप्ता को मुंबई के जेजे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्हें ऑक्सीजन दी जा रही है। 55 वर्षीय पार्थो दास गुप्ता को मुम्बई पुलिस ने पिछले महीने पुणे से पकड़ा था। पार्थो पर रिपब्लिक टीवी के साथ मिलकर टीआरपी में फर्जीवाड़ा करने का आरोप है।

पुलिस के अनुसार बार्क के पूर्व मुख्य परिचालन अधिकारी रोमिल रामगढ़िया ने पूछताछ में बताया था कि वे दासगुप्ता के सथ मिलीभगत करके टेलीविजन रेटिंग पॉइंट्स (टीआरपी) में फर्जीवाडा कर रहे थे। पुलिस की गिरफ्त में पहले ही आ चुके रामगढ़िया अदालत ने जमानत दे दी थी। दासगुप्ता जून 2013 से नवंबर 2019 के बीच बीएआरसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) थे। रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क ने सभी आरोपों को खारिज करते हुए दावा किया कि जांच फर्जी थी और इसका एकमात्र मकसद रिपब्लिक टीवी को निशाना बनाना था।

ज्ञात रहे कि सोशल मीडिया पर एक चैट वायरल हो रही है, जिसे कथित तौर पर अर्नब और पार्थो की चैट बताया जा रहा है। इस चैट में अर्नब और पार्थो पीएमओं की बात करते दिख रहे हैं। चैट में अंदर पार्थो अर्नब को बार्क का कॉन्फिडेंशियल लेटर शेयर करते हुए दिख रहे हैं। ट्राई पर लगाम लगाने की बात भी चैट में में शामिल है। चैट में अर्नब की तरफ से पीएम मोदी और पीएमओ की भी चर्चा की जा रही थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.