जिला परिषद चुनाव

नई दिल्ली. जिला परिषद चुनावों के दौरान आतंकी हमलों की आशंका से निपटने के लिए केन्द्र सरकार 25 हजार से अधिक अतिरिक्त सुरक्षाकर्मी तैनात करेगी।

चुनावों के पहले चरण में 28 नवंबर को 10 जिलों में मतदान होगा। इस चरण में कुल 167 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। दूसरे चरण के लिए 227 प्रत्याशी नामांकन भर चुके हैं। इधर घाटी में आए दिन आतंकवादी घटनाएं हो रही हैं। गुरूवार सुबह भी नगरोटा में एक मुठभेड़ हुई जिसमें चार आतंकवादियों के मारे जाने और एक सुरक्षाकर्मी घायल होने की खबर है। मुठभेड़ के बाद जम्मू-श्रीनगर राज्यमार्ग को बंद कर दिया गया। इससे पहले बुधवार को पुलवामा जिले में आतंकवादियों ने एक ग्रेनेड हमला किया जिसमें करीब एक दर्जन नागरिक घायल हो गए।

इस बीच चुनावों के पहले घाटी में राजनीति भी गरमा रही है। विपक्षी पार्टियों के “गुपकार गठबंधन” को ‘गैंग’ कहने पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की आलोचना हो रही है। पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती द्वारा विरोध जताए जाने के बाद अब कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सैफुद्दीन सोज ने कहा है कि केंद्रीय गृह मंत्री जब इस तरह के बयान देते हैं तो उस से दुनिया में पूरे देश की छवि खराब होती है। दो दिन पहले शाह ने ट्वीट करके कहा था कि ‘गुपकार गैंग’ विदेशी ताकतों से कश्मीर में हस्तक्षेप करवाना चाहता है और वो भारत के तिरंगे झंडे का भी तिरस्कार करता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.