नई दिल्ली. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और मोदी सरकार के खिलाफ आए दिन हमले करने वाले राहुल गांधी का आरोप है कि मोदी सरकार अन्नदाताओं को तो फूटी कौड़ी भी देने में हिचकिचाती है और अपने सूट-बूट वाले दोस्तों को हजारों करोड़ रुपए लुटा रही है। राहुल गांधी का कहना है कि सरकार ने अकेले 2019 में पूंजीपतियों को 237 हजार करोड़ रूपए से अधिक राशि दे दी। इससे पहले की राशि भी कई हजार करोड़ की है।

राहुल गांधी ने आरोप लगाया है कि मोदी सरकार को किसानों की फिक्र नहीं है और वह उनकी पूंजी को अपने उद्योगपति मित्रों में बांट रही है। गांधी ने ट्वीट किया कि अपने सूट-बूट वाले दोस्तों का 8,75,000 करोड़ रूपये का कर्ज माफ करने वाली मोदी सरकार अन्नदाताओं की पूंजी साफ़ करने में लगी है।

इसके साथ ही उन्होंने एक आंकड़ा दिया है जिसमें कहा गया है कि 2014 से अब तक सरकार पूंजीपतियों को बड़ी रकम दे चुकी है। उन्होंने कहा कि 2014 में 60 हजार करोड़ से पूंजीपतियों में बांटी गयी यह रकम हर साल बढ़ती गयी और 2019 में 237 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा पैसा पूंजीपतियों को दिया गया।

यहां यह उल्लेखनीय है कि विपक्ष के नेताओं में सिर्फ राहुल गांधी ही हैं, जो पिछले कई वर्ष से लगातार ये आरोप लगा रहे हैं कि मोदी सरकार पूंजीपतियों की हितरक्षक है और देश के गरीबों का गला काटने में नहीं हिचकिचाती।

Leave a comment

Your email address will not be published.