नई दिल्ली. अमेरिकी धौंस में कमी आने से विचलित अमेरिकी नागरिकों के बदले रूख को देखते हुए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की जीत की सम्भावनाएं जैसे-जैसे कम होती जा रही हैं, वैसे-वैसे वे कानूनी लड़ाई की तैयारियां तेज कर रहे हैं। खुद ट्रंप ने उन खबरों को खारिज कर दिया है कि वह मंगलवार को राष्ट्रपति चुनाव संपन्न होने के बाद समय से पहले ही जीत की घोषणा करने की योजना बना रहे हैं। उन्होंने संकेत दिया कि चुनाव होते ही कानूनी लड़ाई की तैयारी कर रहे हैं।

ज्ञातव्य है कि इस तरह की खबरें सामने आ रही थीं कि ट्रंप चुनाव वाली रात समय से पहले चुनावी विजय का ऐलान कर सकते हैं। पूछे जाने पर उन्होंने नॉर्थ कैरोलिना के शारलोटे हवाईअड्डे पर पत्रकारों से कहा कि यह गलत खबर है। उन्होंने संकेत दिया कि उनकी टीम चुनाव वाली रात को ही कानूनी लड़ाई शुरू करने के लिए तैयारी कर रही है।

ट्रंप ने कहा कि उनका मानना है कि यह खतरनाक बात है कि किसी चुनाव के बाद मतपत्र एकत्रित किए जा सकें। मुझे लगता है कि यह खतरनाक बात है कि जब लोगों या राज्यों को चुनाव संपन्न होने के बाद लंबे समय के लिए मतपत्रों को जमा करने की इजाजत हो क्योंकि इससे केवल एक ही चीज हो सकती है। उन्होंने अनेक मतदान क्षेत्रों में चुनाव वाले दिन के बाद मतपत्र प्राप्त किये जाने की अनुमति देने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि हम चुनाव होते ही उसी रात अपने वकीलों के साथ तैयार होंगे।

मुझे लगता है कि इससे एक बड़ा खतरा है और बड़े स्तर पर धोखाधड़ी तथा दुरुपयोग हो सकता है। यह खतरनाक बात है कि हम कंप्यूटर के आधुनिक जमाने में भी चुनाव वाली रात ही परिणाम नहीं जान सकते।

Leave a comment

Your email address will not be published.