नई दिल्ली. एक ऐसी स्नाइपर राइफल है जिसकी एक गोली हल्के बख्तरबंद टैंक के चिथड़े उड़ा देती है। सेना इस राइफल का इस्तेमाल इंसानों पर बहुत कम करती है क्योंकि इसकी गोली इंसानी शरीर के उसी तरह चिथड़े उड़ा देती है जिस प्रकार किसी बम से शरीर के हिस्से हवा में बिखर जाते हैं। ब्रिटिश सेना की ये राइफल हाल ही तब चर्चा में आई जब सीरिया में तैनात ब्रिटिश टुकड़ी ने एक आत्मघाती हमलावर पर इसकी गोली का इस्तेमाल किया है। राइफल .50 कैलिबर की है और उसकी एक ही गोली से पांच आतंकवादी मारे गए। जिनमें आईएसआईएस का एक शीर्ष कमांडर भी शामिल है।

एक किलोमीटर दूर से भी सटीक निशाना

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार स्पेशल एयर सर्विस एसएएस के सार्जेंट ने सीरिया में तैनाती के दौरान यह कारनामा किया। स्नाइपर ने सीरिया में जिहादी आत्मघाती हमलावर के विस्फोटकों से भरे जैकेट पर लगभग 900 मीटर की दूरी से सटीक निशाना लगाया। उस समय वह जिहादी एक कैमरे पर धमाके के पहले संदेश रिकॉर्ड कर रहा था। गोली लगने से आत्मघाती जिहादी के जैकेट में धमाका हो गया। जिससे वहां मौजूद चार अन्य आतंकवादी भी मारे गए।

सीक्रेट बम फैक्ट्री में थे आतंकी

ब्रिटिश सेना के कमांडो कई दिनों से आईएसआईएस की इस सीक्रेट बम फैक्ट्री पर नजर बनाए हुए थे। एक दिन उन्हें इस फैक्ट्री में संदिग्ध गतिविधियां दिखी तो एक्शन का फैसला किया गया। कमांडो टीम ने फैक्ट्री में से पांच आतंकियों को बाहर निकलते हुए देखा। उनमें से एक आत्मघाती हमलावर को फिल्मा रहा था।

ब्रिटिश आर्मी का सबसे शक्तिशाली हथियार

पहले योजना बनाई गई कि एक गोली से केवल उस हमलावर को मार दिया जाए, जिससे उसकी पहचान की जा सके। लेकिन लक्ष्य की दूरी अधिक होने के कारण और हवा में अचानक बदलाव से गोली उस आत्मघाती हमलावर के विस्फोटकों से भरे जैकेट पर जा लगी। जिससे हुए धमाके में सभी पांचों आतंकवादी मारे गए। ब्रिटिश स्नाइपर .50 कैलिबर की राइफल का इस्तेमाल कर रहा था। ये राइफल ब्रिटिश आर्मी शस्त्रागार के सबसे शक्तिशाली हथियारों में गिना जाता है। ब्रिटिश सेना पिछले कई साल से स्थानीय कुर्दिश लड़ाकों के साथ मिलकर आईएसआईएस के खिलाफ जवाबी कार्रवाई कर रही है।

कार और ट्रकों को उड़ाने के लिए करते हैं इस्तेमाल

ब्रिटिश सेना .50 कैलिबर राइफल का इस्तेमाल मुख्य रूप से विमान, कार, ट्रक और हल्के बख्तरबंद टैंकों जैसे बड़े लक्ष्यों को मारने के लिए करती है। इंसानों के ऊपर इस राइफल का प्रयोग काफी घातक होता है। इसके एक वार से इंसानी शरीर के चिथड़े उड़ जाते हैं। लंबी दूरी के लक्ष्य को साधने या किसी लक्ष्य के ऊपर तगड़ा वार करने के लिए इस राइफल का इस्तेमाल किया जाता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.