नई दिल्ली. चीन के ‘कोरोना वैक’ टीके के प्रारंभिक क्लिनिकल ट्रायल के परिणामों में दावा किया गया है कि टीका अब तक सुरक्षित साबित हुआ है। टीके से 18 से 59 वर्ष के स्वस्थ लोगों में एंटीबॉडीज विकसित हुई है।

एक जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार टीका बनाने की दौड़ में शामिल कोरोना वैक के पहले टीकाकारण के 28 दिन के भीतर यह लोगों में एंटीबॉडीज प्रतिक्रिया पैदा कर सकता है। चीन के जियांग्सू प्रॉवेंशियल सेंटर फॉर डिसीस कंट्रोल के शोधकर्ताओं ने सर्वाधिक एंटीबॉडीज प्रतिक्रिया पैदा करने के लिए सबसे ज्यादा डोज का पता लगाने का दावा किया है।

अध्ययन बताता है कि कोरोना वैक के दो डोज 14 दिन के अंतराल में दिए जाने पर चार सप्ताह के भीतर सर्वाधिक एंटीबॉडीज प्रतिक्रिया पैदा हुई हैं। लंबे अंतराल में जब कोविड-19का खतरा कम हो जाएगा, तब एक माह के अंतर में दो डोज देना दीर्घकालिक प्रतिरोधी तंत्र विकसित करने के लिए पर्याप्त रहेगा।

मौत शराब पीने से हुई, निलम्बित पुलिसकर्मी हुए

नई दिल्ली. उत्तरप्रदेश के फिरोजाबाद जिले के शेखपुरा में शराब पीने से हुई मौतों के मामले में खैरगढ़ के थानाध्यक्ष मुस्तकीम अली, एसआई विजेंद्र सिंह एवं कॉन्स्टेबल संजीव कुमार को निलंबित कर दिया गया है। जिले के थाना खैरगढ़ के क्षेत्र शेखपुरा में मंगलवार को तीन व्यक्तियों की कथित शराब सेवन से मौत हो गई थी।

थाना खैरगढ़ के क्षेत्र शेखपुरा निवासी 30 वर्षीय नवी चंद एवं 32 वर्षीय संजय उर्फ संजू यादव रिश्ते में चाचा भतीजे लगते हैं। दोनों ने सोमवार शाम को शराब पी थी और मंगलवार सुबह हालत बिगड़ने के बाद उनकी मौत हो गई थी। परिजनों ने दिल का दौरा पड़ने से मौत की बात बताई थी। मंगलवार देर शाम एक अन्य व्यक्ति अवधेश की भी मौत हो गई थी। उसने भी शराब का सेवन किया था। मामले की जांच उप मंडलीय मजिस्ट्रेट द्वारा की जा रही है। इसके अलावा आबकारी विभाग से भी जांच करने को कहा गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.