नई दिल्ली. अमेरिका में कोरोना संक्रमितों की संख्या एक करोड़ अस्सी लाख पार कर जाने की डरावनी खबर के बीच अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन ने फाइजर की कोविड-19 वैक्सीन की पहली खुराक का टीका लगवाकर देश को आश्वस्त किया कि इस महामारी से डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि उससे निपटने के लिए टीका लगवाया जा सकता है।

बिडेन ने डेलावेयर के नेवार्क में क्रिस्टियानाकारे अस्पताल में पहली खुराक का टीका लगवाने बाद कहा कि मैं यह प्रदर्शन इस लिए कर रहा हूं कि लोगों को टीका लगवाने के लिए तैयार रहना चाहिए। चिंता की कोई बात नहीं है।

बिडेन ने कहा कि ट्रम्प प्रशासन टीका कार्यक्रम शुरू करने के लिए कुछ श्रेय का हकदार है। उन्होंने देशवासियों से मास्क पहनने और छुट्टियों के दौरान सामाजिक दूरी का पालन करने भी आग्रह किया। इससे पहले दिन में बिडेन की पत्नी जिल बिडेन ने पहली खुराक का टीका लगवाया।

निर्वाचित उपराष्ट्रपति-चुनाव कमला हैरिस और उनके पति डग एमहॉफ भी अगले सप्ताह टीका लगवाएंगे। उपराष्ट्रपति माइक पेंस और हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी ने पिछले सप्ताह टीके की पहली खुराक ली थी।

उधर वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) से सबसे अधिक प्रभावित अमेरिका में संक्रमितों की संख्या एक करोड़ अस्सी लाख के पार पहुंच गई है। जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के अनुसार अमेरिका में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 18,006,061 हो गई है।

इस बीच अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 3,19,190 पहुंच गई है। फाइजर- बायोएनटेक और मॉडर्ना के कोविड टीकाकरण की मंजूरी मिलने के साथ ही उम्मीद की जा रही है कि अमेरिका में अब कोरोना पर काबू पाया जा सकेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.