नई दिल्ली. भारत ने याद दिलाया है कि पाकिस्तान एबटाबाद को नहीं भूले। वही एबटाबाद जहां अमेरिकन सील कमांडो ने संयुक्त राष्ट्र के मोस्ट वांटेड आतंककारी अलकायदा सरगना ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था।

भारत ने कहा है कि पाकिस्तान, संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित आतंकवादियों का सबसे बड़ा प्रश्रयदाता है। भारत ने ये प्रतिक्रिया उस डोजियर पर दी है जिसे एक पाक राजनयिक ने संरा महासचिव एंतोनियो गुतारेस को सौंपा था।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि राजदूत टी एस तिरुमूर्ति ने ट्वीट किया कि पाकिस्तान का डोजियर झूठ का पुलिंदा है। उसकी कोई विश्वसनीयता नहीं है। फर्जी दस्तावेज देना और झूठा कथानक गढ़ना पाकिस्तान के लिए नयी बात नहीं है। आतंकवादियों के सबसे बड़े प्रश्रयदाता को एबटाबाद याद रखना चाहिए।

इस्लामाबाद के राजनयिक मुनीर अकरम ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव गुतारेस से भेंट कर पाकिस्तान सरकार की ओर से एक डोजियर सौंपकर आरोप लगाया कि भारत उनके देश में आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा है। जबकि विदेश सचिव हर्ष वर्धन श्रृंगला ने अमेरिका, रूस, फ्रांस और जापान जैसे बड़े देशों के दूतों को पाकिस्तान स्थित जैश ए मोहम्मद आतंकी संगठन द्वारा जम्मू कश्मीर के नगरोटा में हमले की साजिश से अवगत कराया था। भारतीय सुरक्षा बलों ने 19 नवंबर को आतंकवादियों की इस साजिश को नाकाम करते हुए मुठभेड़ में चार आतंकवादियों को मार गिराया था।

Leave a comment

Your email address will not be published.