Advertisement
Subscribe for notification

एडीबी के 1.5 अरब डॉलर के ऋण से भारत खरीदेगा 66.7 करोड़ कोरोना टीके

Advertisement

मनीला. एशियाई विकास बैंक (एडीबी) कोरोना वायरस से बचाव के लिए टीकाकरण के वास्ते भारत को 1.5 अरब डॉलर का ऋण मंजूर किया है। एडीबी ने यहां जारी एक बयान में कहा कि इसके लिए एशियन इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट बैंक से भी 50 करोड़ डॉलर का ऋण मिलने का अनुमान है।

Advertisement

बयान में कहा गया है कि इस ऋण से भारत को कम से कम 66.7 करोड़ टीके के डोज खरीदने में मदद मिलेगी। इससे 31.7 करोड़ लोगों को टीके लगाये जा सकेंगे। इससे भारत के राष्ट्रीय टीकाकरण प्लान को मदद की जायेगी जिसका उद्देश्य 18 वर्ष आयु से अधिक के 94.47 करोड़ लोगों को टीका लगाना है। यह भारत की कुल आबादी का 68.9 प्रतिशत है।

एडीबी के अध्यक्ष मासात्सुगु असाकावा ने कहा कि उनके संगठन से मिलने वाले ऋण से भारत को अपने नागरिकों को इस जानलेवा वायरस से बचाव करने और उनकी जिंदगी बचाने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि महामारी के प्रभावों से बचाने के लिए टीकाकरण महत्वपूर्ण है और इससे स्वास्थ्य, समाज और आर्थिक गतिविधियों को पटरी पर लाने में मदद मिलेगी। इससे शिक्षण संस्थानों को भी फिर से खोलने में सहयोग मिलेगा।

यह ऋण एडीबी के दिसंबर 2020 में शुरू किये गये नौ अरब डाॅलर के एशिया प्रशांत टीका सुविधा के तहत उपलब्ध कराया जा रहा है।

Hindi News: