साल 2001 में ‘तुम बिन’ फिल्म ने रिलीज होते ही बॉक्स आफिस पर तहलका मचा दिया था। लेकिन फिल्म के ऐक्टर्स एकाएक फेमस होकर गुमनाम हो गए। इस फिल्म के डायरेक्टर अनुभव सिन्हा (Anubhav Sinha) थे और संदनी सिन्हा (Sandali Sinha), प्रियांशु चटर्जी (Priyanshu Chatterjee), हिमांशु मलिक (Himanshu Malik) और राकेश बापट (Raqesh Bapat) मुख्य पात्रों में थे।फिल्म हिट होने से प्रियांशु, हिमांशु और राकेश प्रसिद्ध हो गए। बाद में उनका नाम, शोहरत और रुतबा खत्म होता चला गया। अब वही हिमांशु ‘चित्रकूट’ (Chitrakoot) फिल्म डायरेक्ट करेंगे।

हिमांशु का कहना है कि जब वे हिट हुए तब बॉलिवुड बहुत छोटा था। ओटीटी प्लेटफॉर्म नहीं आया था। बॉलिवुड बहुत स्लो था। हमें समझ नहीं थी कि करियर कैसे आगे बढ़ाना है।
हिमांशु ने खुलासा किया कि तुम बिन के बाद एक बहुत बड़े मैगजीन पब्लिकेशन से कॉल आया कि आप एक अपकमिंग ऐक्ट्रेस के साथ अफेयर करें। इससे अच्छी स्टोरी बनती है। उस समय मैं हैरान रह गया था कि ऐसा भी होता है! उन्होंने बोला कि हां, बिना पब्लिसिटी के कोई स्टार नहीं बनता है। हम 1-2 कैंडिडेट से बात कर लेंगे। वो आपके जितनी ही फेमस होंगी। गोवा में एक कमरा दिला देंगे। आप वहां आराम से जाइये और यहां हम एक्सपोज कर देंगे।’

हिमांशु बतौर डायरेक्टर अपनी पहली फिल्म ‘चित्रकूट’ लेकर आ रहे हैं, जोकि एक मॉर्डन जमाने की स्टोरी पर बेस्ड है। ऐक्टर से डायरेक्टर कैसे बने? इस सवाल पर उनका कहना है कि एक आर्टिस्ट चाहता है कि उसकी ग्रोथ होती रहे। वो कुछ नया सीखता रहे। लिखता रहे। पढ़ता रहे। एक दिन उन्होंने सोचा कि क्यों न मैं भी कुछ बनाऊं। बस फिर फिल्म बनाने का फैसला कर लिया।

नाम, शोहरत और रुतबा गायब होने के कारणों का खुलासा करते हुए हिमांशु ने कहा कि उस वक्त एक बहुत बड़े मैगजीन पब्लिकेशन से कॉल आया कि आप एक अपकमिंग ऐक्ट्रेस के साथ अफेयर करें। इससे अच्छी स्टोरी बनती है। उस समय मैं हैरान रह गया था कि ऐसा भी होता है! उन्होंने बोला कि वो आपके जितनी ही फेमस होंगी। गोवा में एक कमरा दिला देंगे। आप वहां आराम से जाइये और यहां हम एक्सपोज कर देंगे।’

Leave a comment

Your email address will not be published.