भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने रुपे क्रेडिट कार्ड पर यूपीआई और फीचर फोन के लिए यूपीआई लाइट की लॉन्‍चिंग के साथ ही घोषणा की है कि भारत बिल पे सिस्टम (बीबीपीएस) बड़े बिलों का भुगतान करने मेें भी सक्षम होगा. पंजाब नेशनल बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और इंडियन बैंक भीम ऐप के माध्यम से रुपे क्रेडिट कार्ड पर यूपीआई के साथ पेमेंट कर सकेंगे. जबकि फेडरल बैंक, यूएई के लुलु एक्सचेंज के साथ, बीबीपीएस क्रॉस के साथ पेमेंट करेगा. डिजिटल भुगतान ऐप के समान, यूपीआई लाइट एक ऑनडिवाइस वॉलेटहै. बीबीपीएस इनबाउंडभी बड़े बिलों का भुगतान में सक्षम होगा.

रुपे क्रेडिट कार्ड वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (वीपीए) यानी यूपीआई आईडी से जुड़े होंगे. इस मौके पर आरबीआई गवर्नर के साथ नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) के अध्यक्ष विश्वमोहन महापात्रा और इन्फोसिस के गैरकार्यकारी अध्यक्ष नंदन नीलेकन भी उपस्‍थित थे.

शुल्‍क सभी के लिए 0.9%

बता दें कि RuPay से जुड़े डेबिट कार्ड के माध्यम से UPI लेनदेन पर शून्य शुल्क लगता है. MDR (मर्चेंट डिस्काउंट रेट) UPI, डिजिटल वॉलेट के साथसाथ डेबिट और क्रेडिट कार्ड के माध्यम से किए गए भुगतान के लिए व्यापारियों से लिया जाने वाला शुल्क है. अभी तक ये शुल्‍क सभी के लिए 0.9% था. क्रेडिट कार्ड जारी करने वाले बैंकों के लिए एमडीआर पैसा कमाने का तरीका है. क्रेडिट कार्ड पर 2 से 3% एमडीआर वसूला जाता है.

Leave a comment

Your email address will not be published.