कैलेंडर ईयर 2022 समाप्त होने में सिर्फ 25 दिन बाकी हैं और कार डीलरों के यहां 2022 मॉडल की गाडियों की भरमार है. चूंकि 2023 आते ही हर व्यक्ति लेटेस्ट मॉडल की कार खरीदने की कोशिश करेगा, इसलिए कार कंपनियों और डीलरों ने डिस्काउंट का जाल बिछा दिया है. कोई दो लाख का ईयर एंड डिस्काउंट आफर कर रहा है तो कोई डेढ़ लाख का. लेकिन इस आफर में एक कांटा भी छुपा हुआ है. आफर निगलते ही वह कांटा आपके गले में फंस सकता है. यानी इस आफर के पीछे के हिडन एंजेंडे के तहत आपको जनवरी से जून तक बनी कारें चिपकाई जा सकती हैं.

क्योंकि आपकी आंखें लाखों के आफर को देख रही हैं और उसी लालच में आप छह महीने से एक साल तक पुरानी गाड़ी खरीदकर घर ला सकते हैं. इसलिए आप इस खबर को ध्यान से पढ़िए और आफर का लाभ उठाने के साथ ही यहां दिए गए सवाल डीलर से पूछिए तो वह आपको अपने शोरूम में उपलब्ध 2022 की लेटेस्ट मेक वाली कार बेचेगा.

असल में कैलेंडर ईयर समाप्त होने की वजह से कंपनियां अपने स्टॉक को जीरो करना चाहती हैं. क्योंकि नए कैलेंडर ईयर में ग्राहक पुराने साल में बनी कारें नहीं खरीदते. इसलिए दिसम्बर में कंपनियां 11 महीनों की तुलना में बड़े डिस्काउंट का लालच देती हैं. ये ईयरएंड डिस्काउंट कहलाता है.

इसी ईयरएंड डिस्काउंट के तहत हुंडई 1.50 लाख रुपए, मारुति नेक्सा 55 हजार रुपए, मारुति एरेना 75 हजार रुपए, रेनो 50 हजार रुपए, टाटा मोटर्स 43 हजार रूपए का डिस्काउंट ऑफर दे रही हैं. इस आफर को ध्यान से देखने पर ग्राहकों को पता चलेगा कि इसमें एक्सचेंज बोनस, कैश डिस्काउंट, कॉर्पोरेट ऑफर, लॉयल्टी बोनस शामिल है.

ऐसे मिलेगा डिस्काउंट का पूरा फायदा

कार खरीदने पर 1 लाख इस डिस्काउंट में एक्सचेंज बोनस, कैश डिस्काउंट, कॉर्पोरेट ऑफर, लॉयल्टी बोनस शामिल होने से ये देखना होगा कि कैश डिस्काउंट कितना है. कैश डिस्काउंट कार की कीमत से कम होता है. एक्सचेंज बोनस पुरानी कार एक्सचेंज करने पर मिलता है. कॉर्पोरेट डिस्काउंट उनको मिलता है, जो किसी कॉर्पोरेट कंपनी से जुड़ा होता है. लॉयल्टी बोनस में कंपनी सर्विसेज ऑफर करती है. कुल मिलाकर कैश डिस्काउंट ही एकमात्र ऐसा ऑफर होता है जो डायरेक्ट पैसा बचाता है। इसलिए कैश डिस्काउंट कंपनियां बहुत कम देती हैं।

दिसंबर में तैयार कार जनवरी में एक साल पुरानी हो जाएगी. इसी कारण कंपनियां 2022 में तैयार कारों पर बड़ा ऑफर देती हैं. जनवरी 2023 से पहले सभी कंपनियां कारों का स्टॉक क्लियर करना चाहती हैं। वे सभी मॉडल और सभी वैरिएंट इस महीने सेल करना चाहती है. इसलिए अगर आप नेगोशिएट करेंगे तो ऑफर के साथ डीलर्स अपनी तरफ से एक्स्ट्रा बेनिफिट्स दे सकते हैं.इसलिए दिसम्बर में कार खरीदने वाले डीलर से ज्यादा से ज्यादा फायदा लेने की कोशिश करें.

बता दें कि कार के बेस और टॉप वैरिएंट में 2 से 3 लाख रुपए का अंतर होता है. लेकिन दिसम्बर में डीलर 1 लाख या उससे ज्यादा का बेनिफिट भी देने को तैयार हो जाते हैं.

कार का मॉडल ईयर

कार में VIN से मैन्युफैक्चरिंग ईयर का पता चलता है. VIN नंबर में साल के साथ कार प्रोडक्शन का महीना भी दर्ज होता है. 17 अक्षरों वाले VIN नंबर में 10वां अक्षर साल और 11वां मैन्युफैक्चरिंग महीना दर्शाता है.

Leave a comment

Your email address will not be published.